यहाँ विराजित हैं 600 करोड़ के गणेशजी, वज़न है मात्र 36.5 ग्राम

600 करोड़ के गणेशजी! जी हाँ 600 करोड़, वज़न है मात्र 36.5 ग्राम..! भारत के गुजरात राज्य स्थित सूरत शहर को हीरा नगरी के रूप में भी जाना जाता है। और इसी हीरा नगरी में है कच्चे हीरे की 182.3 कैरेट की गणेश जी की मूर्ति, जिसकी कीमत का अंदाजा लगाना आम आदमी ही नहीं आम हीरा व्यापारी तक के लिए आसान नहीं है। आप बस इतना जान लीजिये कि अगर गणेश जी के आकार के इस हीरे को हम बाज़ार में बेचने जाएं तो लगभग 600 करोड़ तो आराम से मिल ही जायेंगे। गणेश जी रूपी इस हीरे की सबसे बड़ी मुख्य बात यह है कि यह प्राकृतिक है इसे बनाया नहीं गया है.. मतलब कि हीरे का ये रूप स्वयं बना है यानीं गणेश जी हीरे रूप में स्वयं अवतरित हुए हैं। सूरत के प्रसिद्ध हीरा व्यापारी कनुभाई आसोदरिया के घर पर मौजूद ये गणेश जी पिछले 12 वर्षो से उनके परिवार के अराध्य हैं।

बता दें कि सूरत में रहने वाले कनु भाई आसोदरिया सूरत में बैठकर देश और दुनिया के कई हिस्सों में डायमंड का बड़ा कारोबार करते हैं। आसोदरिया परिवार के अनुसार लगभग 12 साल पहले कनु भाई ने बेल्जियम से डायमंड का जखीरा मंगाया था, तभी उसमें से भगवान गणेश जी के आकार का एक बड़ा हीरा निकला था। बस  इसमें गणेश जी की छवि नज़र आते ही इसे घर के मंदिर में रख दिया गया, तब से यह यहीं पर विराजित है। और बस तभी से कनु भाई और उनके पारिवारिक लोगों में इस हीरे के प्रति आस्था है और वे इसकी पूजापाठ करते हैं।

loading...

Loading...

अगले पेज पर पढें – इस हीरे से कोई छेड़-छाड़ नहीं की गई है और इस हीरे का आकार कुदरती है।

loading...