जब देवर पर आया भाभी का दिल तो भाभी ने भी कर दी सारी हदें पार.. शर्मसार रिश्ता!

कलयुग है भई! यहाँ कुछ भी संभव है. अब यूपी के कानपूर में घटे इस मामले को ही लेलो, जहाँ अनिल नामक युवक की शादी बड़ी धूमधाम से 4 साल पहले हुयी थी. कुछ दिन तक तो पारिवारिक जीवन में सब ठीक रहा लेकिन एक दम से सास और बहू के बीच झगड़े होने लगे.

शाम को हारा थका अनिल घर आते ही इन झगड़ों से परेशान हो गया था. उसे खुद को अपनी माँ का इकलौता सहारा होने का मतलब पता, इसलिए अलग तो नहीं हो सकता था. लेकिन समय के साथ बात हद से ज्यादा आगे बढ़ गयी और सास-बहू की लड़ाई गंभीर हो चुकी थी. पत्नी समझना नहीं चाहती थी और माँ को कुछ बोल नहीं सकता था.

Loading...

अंतत: उसने किराये पर कमरा ले कर पत्नी को घर से अलग रहने का फैसला किया. मगर समस्या कम न हुयी थी. अब पत्नी को समस्या थी कि वह हर रोज अपनी माँ से मिलने भी क्यों जाता है? वह नहीं चाहती थी कि वह माँ को पैसे भी दे. परन्तु अनिल माँ के प्रति फर्ज को अच्छे से समझता था.

थोड़ा समय बीतने के साथ अनिल को सुनने में मिला कि उसके पीछे से उसका एक चचेरा भाई, निशांत उसके घर पर आता है और काफी देर तक यहाँ रहता है. शुरू में तो अनिल को विश्वास न हुआ, पर एक दिन उसने ऑफिस की छुट्टी लेकर इस बात की पुष्टि करनी चाही.

छुट्टी लेकर उसने घर के पास में ही छुपकर, निशांत के आने का इन्तजार किया. मगर उस समय अनिल ने देखा वो दंग रह गया. न सिर्फ निशांत उसके घर आया बल्कि उसने उसे अपनी पत्नी के साथ आपत्तिजनक स्थिति में पाया. गुस्से में अनिल ने पत्नी के घर वालों को बुलाकर सब बता दिया और उसे उनके साथ मायके में भेज दिया.

रिश्तेदारों के दबाव के चलते कुछ समय में अनिल और पत्नी के बीच माफीनामा हो जाता है. उस दौरान अनिल की माँ का भी स्वर्गवास भी हो जाता है. अनिल के जीवन में उसकी पत्नी ही बची थी. मगर पुरानी कडवाहट को समेटे पत्नी ने बेवफाई की हद पार करते हुए अपने देवर के साथ मिलकर पति का क़त्ल ही कर दिया.

loading...

अगली सुबह जब एक पड़ोसी दोस्त उसके घर जाता है तो दृश्य देख उसके होश खराब हो जाते हैं. सारे घर का सारा सामान इधर-उधर फैला हुआ था और अनिल की लाश जमीन पर पड़ी थी. मामला साफ़ था. पुलिस समेत सब समझ चुके थे कि उसकी पत्नी ने ही यह सब किया है. मगर घटना के 6 महीने बाद पुलिस ने उसे लड़की उसके प्रेमी देवर के साथ शिमला से पकड़ लिया.

कलयुगी देवर भाभी दोनों ही जेल में हैं और अपनी सजा काट रहे हैं. मगर देवर भाभी का पवित्र रिश्ता कटघरे में अभी भी सुनवाई के लिए खड़ा है !!

loading...