प्रभावशाली देशों की लिस्ट में भारत ने अमेरिका, रूस और चीन को पछाड़ा

प्रभावशाली देशों की सूची में भारत अब अमेरिका, रूस और चीन तक को पीछे छोड़ चुका है। वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम द्वारा एक ऑनलाइन सर्वे में दुनिया के सबसे अधिक सकारात्मक प्रभार रखने वाले देशों की सूची में कनाडा को पहला स्थान मिला है, वहीं भारत सातवें नंबर पर है। हैरत की बात यह है कि इस सूची में भारत ने अमेरिका, रूस और चीन को पीछे छोड़ दिया है।influential country list

इस सूची में कनाडा के बाद क्रमशः ऑस्ट्रेलिया, जर्मनी, फ्रान्स, ब्रिटेन तथा यूरोपियन यूनियन का नाम है। इसके बाद ही सातवें नंबर पर भारत का नाम है। सूची के मुताबिक, आठवें, नौवें व दसवें नंबर पर क्रमशः चीन, अमेरिका और रूस हैं।

इस ऑनलाइन सर्वे में 25 देशों के करीब 18 हजार लोगों ने भाग लिया था। अमेरिका को जहां सिर्फ 40 फीसदी लोगों ने प्रभावशाली माना, वहीं चीन के समर्थन में 49 फीसदी लोग रहे। जबकि रूस का समर्थन करने वाले लोगों की संख्या 35 फीसदी रही।

 

माना जा रहा है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कार्यकाल के दौरान भारत की इमेज पर सकारात्मक प्रभाव पड़ा है।

पिछले कुछ समय में पीएम मोदी ने बड़े पैमाने पर दुनिया के अलग-अलग देशों से संबंध स्थापित किए हैं। दुनिया के कई देशों ने अलग-अलग मुद्दों पर भारत के साथ अपनी सहमित जताई है। यही वजह है कि भारत की सकारात्मक छवि में इजाफा देखने को मिला है।

loading...

इस सर्वे से एक और बात निकलकर सामने आई है कि वैश्विक पटल पर अमेरिका की धमक कम हो रही है। पिछले साल के सर्वेक्षण की तुलना में अमेरिका की रेटिंग में 24 फीसदी की भारी गिरावट आई है। कनाडा को 81 फीसदी वोटर्स ने शीर्ष पर रखा है। वहीं, ऑस्ट्रेलिया को 79 फीसदी, जर्मनी को 67 फीसदी लोगों ने प्रभावी माना है। फ्रांस 59 फीसदी के साथ चौथे और इंग्लैंड 57 फीसदी लोगों की पसंद के साथ पांचवें नंबर पर है। source 

loading...