एक माँ अपने ही बच्चों के साथ ऐसा कैसे कर सकती है? एक रोंगटे खड़े कर देने वाली वारदात..

दुनिया में एक बच्चा अगर भगवान के बाद किसी दुसरे से प्यार करता है, तो वह है माँ. हर माँ अपने बच्चे के लिए भगवान होती है, क्यूंकि वह माँ ही होती है जो किसी दुसरे शरीर को धरती पर लाती है. वह उसे न सिर्फ जन्म देती है बल्कि उसी के आंचल में पालन-पोषण से कोई एक इंसान बनता है. मगर अफ़सोस कि कुछ माँ ऐसी भी होती है, जो बच्चे को जीवन देते ही उसे मार देती है. आज हम आपको एक ऐसी ही माँ के बारे में बतायेंगे….

आपको जानकर पीड़ा महसूस होगी, लेकिन ये सच है. खबर अनुसार एक मां ने अपने ही दो बच्चों को सूअर समझकर मार डाला और उन्हें खा भी गई। जी हां, आपको यह यकीन कर पाना बेहद मुश्किल होगा मगर यह सच है थाईलैंड की उस महिला का जिसने अपने दोनों बच्चों को पहले तो बड़ी बेहरमी से मारा और बाद में उन्हें पकाकर खा गई।

Loading...

बता दें कि दोनों बच्चों में से एक बच्चे लगभग एक साल की उम्र का और दूसरा पांच साल का था। मामले में जब पुलिस मौके पर पहुंची तो महिला बच्चों के शरीर के अंगों के साथ लिपट कर सो रही थी।एक पह़ाडी जनजाति से ताल्लुक रखने वाली इस महिला का 2007 से एक मानसिक बीमारी का ईलाज भी चल रहा है। मगर बीते कुछ समय से उसने अपनी सारी दवाइयां एकाएक बंद कर दी थीं।

जिस समय ये घटना घटित हुई महिला अपने बच्चों के साथ घर में अकेली थी। उसका पति उसके लिए दवाइयां लेने के लिए बाहर गया हुआ था। पति जब घर लौटा तो यह देख कर उसके होश उ़ड गए। उसने ही उस महिला की बीमारी के बारे में सब कुछ बताया।

मामले में डॉक्टर्स का कहना है कि इस महिला ने दवाइयां लेनी बंद कर दी थीं और इस कारण से ही वो खुद पर काबू नहीं कर सकी। असल में ये महिला अजीबो गरीब कल्पनाएं करती थी. बस उसे हर समय ये लगने लगता था कि उसे कोई मारने आ रहा है।

loading...

इस बिमारी के चलते ही उसने अपने ही बच्चों को मार डाला और दरिंदगी की इन्तहां पार कर गयी। बता दें कि इस घटना के बाद महिला को ईलाज के लिए अस्पताल में भर्ती करा दिया गया है। अब उसकी काफी निगरानी में रखा जा रहा है!!

loading...